fish farming ke benefits hindi me मछली पालन के फायदे हिंदी में

0

हम आपको बता दे कि fish production में भारत पूरे दुनिया में दूसरे नंबर पर है। मछली पालन (fish farming) को इंग्लिश में fish farming कहते है। ऐसे बहुत से भारत में लोग है जो मछली पालन का काम करते है। मछली पालन का बिज़नेस एक काफी सफल बिज़नेस है।

आज हम आपको मछली पालन(fish farming) से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें बाताएगे। अगर आप अपना खुद का मछली पालन का व्यवसाय कर रहे है या भविष्य में आप मछली पालन का व्यवसाय(fish farming business ) करने वाले वाले है तो आपको काफी मदद मिलेगा।

fish farming बिज़नेस के फायदे

fish farming का बिज़नेस का शुरु

हम आपको बता दे कि मछली पालन कृषि के क्षेत्र में आता है। मछली पालन करना एक लम्बे समय से चलता आ रहा है। मछली पालन (fish farming) का जो सबसे अच्छा भाग है इसको काफी कम पैसो में शुरू किया जा सकता है।

fish farming का बिज़नेस कम पैसो के साथ शुरू किया जा सकता है या ज्यादा पैसो के साथ भी शुरू किया जा सकता है।

यह बिज़नेस को शुरू करने वाले पर निर्भर करता है की वह कितन पैसा अगाना चाहता है। अगर आपके पास जमींन नहीं है जिसमे आप तालाब बनवा सके तो इस समय बाजार में भिन प्रकार के टैंक मिलते है जिसमे आप मछली को काफी आराम से पाल सकते है।

मछली की मांग

भारत के साथ-साथ विदेशो में भी मछली की मांग काफी ज्यादा है। हिंदुस्तान में एक साल में कई टन मछली की खप्त हो जाती है। मछली की मांग इतनी ज्यादा इसलिए है क्योंकि मछली हमारे सेहत के लिए काफी फायदे मंद होता है।

लोग ऐसे काफी मजे के साथ खाना पसंद करते है। अगर आप सोच रहे होंगे कि मछली तो नदियों और तालाबों से मिल जाती है।

तो हम मछली पालन का बिज़नेस क्यों करे। तो एक रिसर्च के अनुसार मछली की जीतनी माँग है। वह बिना मछली पालन के पूरी नहीं हो सकती है।

आसान रख-रखाव

fish-easy-maintenance

मछली पालन की जो दूसरी सबसे अच्छी बात है वह है मछली के रख रखाव। मछलियों को बस समय पर दाना डालने की जरूरत होती है। और कुछ छोटे मोठे कम। अगर बात करे दूसरे किसी जानवर को पालने कि तो उसमे ज्यादा देख भाल करनी पड़ती है बाजए मछली पालन (fish farming) की।

इस समय मछली पालन के लिए मार्किट में टैंक मिलते है। इन टैंक में आप काफी आसान से मछली को पालन सकते है। इस टैंक में मछली का देख बहाल करना और आसान हो जाता है।

कई किस्मों की मछलिया

fish farming में कई प्रकार की मछलिया होती है। कुछ मछलिया पालने में ज्यादा मेहनत और पैसो की जरूत होती है। तो कुछ मछलीया को पालने में काम मेहतन और पैसो की जरूरत होती है।

वही दूसरी तरफ इसका असर मुनाफा पर भी पड़ता है। पर इसमें अच्छी बात यह है कि आप अपने हिसाब से यह बिज़नेस कर सकते है। अपने हिसाब से मछली का प्रकार को पाल सकते है।

मछली पालन पार्ट टाइम बिज़नेस

हम आपको बता दे कि मछली पालन (fish farming) को पार्ट टाइम बिज़नेस की तरह भी किया जा सकता है। यह हम इसलिए का रहे है क्योंकि इसमें रोज आपको कुछ घंटे देने की जरूरत होती है। जैसे की मछलियों को दाना डाला, टैंक का पानी बदलान, आदि। इन कार्य में करीब 2-3 घंटे का समय लग सकता है।

तो अगर आप कोई जॉब या बिज़नेस करते तो इसको पार्ट टाइम बिज़नेस की तरह भी कर सकते है। इस बिज़नेस को महिला भी कर सकती है।

कम पैसो के साथ शुरूवात

यह एक ऐसा बिज़नेस है, जो कोई काफी काम पैसो के साथ शुरू कर सकता है। पहले के ज़माने में इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए जमींन की जरूरत पड़ती थी।

पर अब आप इस बिज़नेस को काफी कम जगह में टैंक के माध्यम से कर सकते है। ऐसे बहुत से लोग है जो काफी कम जगह में टैंक के माध्यम से यह बिज़नेस कर रहे है और काफी अच्छा खासा पैसा कमा रहे है।

मछली पालन के लिए सरकारी योजना

मछली पालन में काफी सरकारी योजना का लाभ मिलता है। सरकार इस बिज़नेस का काफी प्रचार करती है। यह इसलिए क्योंकि इस बिज़नेस को करने वाले काफी कम लोग है और साथ ही साथ यह बिज़नेस बहुत फायदे मंद भी है। तो अगर इस बिज़नेस को कोई करता है तो उसे सरकार की और से काफी मदद मिलता है।

अंत में कुछ बाते

हम आपको बता दे कि मछली पालन पर काफी लोगो का जीवन निर्भर करता है। काफी लोग मछली पालन (fish farming) के सहारे ही अपना जीवन बिता रहे है। करीब पूरे दुनिया में 1 अरब लोग मछली पालन (fish farming)के सहारे जीवन जी रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here