फूलों की खेती को कैसे शुरू करे और फूलो की खेती से जुडी जानकरी जो फूल की खेती में मदद करेंगे

0
Advertisement

flower farming का हिंदी मतलब फूलों की खेती होता है। फूल जो काफी जगह और कामो में इस्तमाल होता है। फूल का नाम सुनते ही हमारे नाको में सुगध आने लगता है। अगर इसकी खेती करनी हो तो काफी मजेदार साबित होगा। भारत के काफी किसान भिन्न भिन्न फूलो की खेती करते है। फूलो की खेती (flower farming) गाँव के अलावा शहर में भी होता है।

अगर बात करे करे फूलों की खेती के बारे में तो भारत में फूलो की खेती (phoolo ki kheti) काफी लम्बे समय से किया जा रहा है। किसान के अलावा आम लोग भी फूलो की खेती करते है। आम लोग खुद के घर में खली जगह पर खेती करते है। यह फूलो की खेती (flower farming) खुद के लिए करते है न की बाजार में बेचने के लिए।

वैसे तो पहले समय में भी फूलो की मांग थी पर इस समय फूलो की मांग काफी बढ़ी है। यह इस लिए क्योंकि पहले फूल का इस्तेमाल ज्यादा तर पूजा-पाठ में होता है। इसके अलावा थोड़ा बहुत सजावट और इत्र के लिए होता था।

पर इस समय काफी पूजा-पाठ के अलावा अन्य जगहों पर भी काफी हो रहा है। इसलिए फूल की मांग बढ़ी है। अगर आप यह सोच रहे होंगे की क्या फूल के खेती सफल खेती है। तो हम आपको बता दे कि भारत के अलावा अन्य देश में भी फूल की मांग काफी है।

इस समय किसान के अलावा भी अन्य तरह के लोग भी फूल की खेती(flower farming) कर रहे है। काफी लोग का जीवन फूल के खेती पर निर्भर करता है तो काफी लोग फूल की खेती कमाई का दूसरा जरिया बनाने के लिए करते है। पर दोनों तरह के लोग इस खेती से काफी पैसा कमा लेते है।

हम आपको बता दे कि वैसे तो फूल की मांग पुरे साल रहती है पर कभी कभी इसका मांग बढ़ भी जाता है। इस समय काफी फूल की खेती (phool ki kheti) करने वाले काफी पैसा कमा लेते है। यह मांग किसी तरह के त्यौहार पर, शादी के समय में बढ़ते देखा जाता है।

यह भी पढ़ें: गुलाब की खेती के बारे में कुछ विशेष ज्ञान

फूल की खेती (phool ki kheti) कैसे शुरू करे

फूल की खेती कैसे शुरू करे flower farming
फूल की खेती कैसे शुरू करे flower farming

अगर आप भी यह सोच रहे है कि आखिर कैसे फूल की खेती शुरू किया जाए तो अब हम आपको यह भी बता रहे है की कैसे आप फूल की खेती कैसे शुरू करेंगे।

बाजार के बारे में जाने

किसी भी तरह के कारोबार को शुरू करने से पहले बाजार के बारे में पता लगाना काफी जरूरी होता है। अगर आप फूल की खेती (phool ki kheti) शुरू करने वाले है.

तो आप अपने आस पास के बाजार के बारे में जरूर समझे। कहने का मतलब यह है कि आप जहाँ भी फूल को बेचने वाले है तो यह जरूर पता लगाए की यहाँ पर कोई और भी फूल की खेती (phool ki kheti) करने वाला है। किस फूल का कितना दाम है। किस फूल की बाजार में कितनी मांग है। इसके अलावा और भी जानकरी को जरूर पता करे।

Advertisement

फूल को चुने

जब आप बाजार को अच्छे से समझ जाए तो इसके बाद आप उस फूल को चुने जिसकी आप खेती करने वाले है। आप जब फूल को चुने तो यह जरूर समझ ले की यह फूल की खेती (phool ki kheti) आपके लिए कितनी अच्छी साबित हो सकती है। जब आप फूल की खेती को शुरू करे तो शुरू में अगर आप के पास कम जगह है तो एक प्रकार की ही फूल को ऊगाई। इसके अलावा अगर आप के पास कई जगह है तो आप भिन्न प्रकार के फूल की खेती कर सकते है।

खेती वाले फूल को जाने

जिस फूल की खेती को आप करने वाले है, तो उस फूल के बारे में जितना हो सके उतना जानकरी ले। यह जानकारी आपको खेती में काफी मदद करेंगे। आप समझ सकते है कि कब आपको क्या कदम उठाने है। कृषि विभाग से संपर्क कर सकते है। यहाँ से आपको काफी जानकरी मिलगे।

जमीन की व्यवस्था करें

जब आप ऊपर के दिए हुए कामों को अच्छे से कर ले तो उसके बाद जमीन की व्यवस्था करे। जमीन के बिना किसी भी खेती को कर पाना काफी मुश्किल हो सकता है। तरह-तरह के फूल के पौधे को तरह तरह के जमीन की जरूरत होती है। अगर जमीन पर किसी भी तरह के छाव होता है तो यह खेती को नुकसान पंहुचा सकता है।

फूल के पौधे खरीदे

जब आप जमीन तैयार कर ले तो उसके बाद फूल के पौधे खरीदे। फूल के पौधे खरीदे जब खरीदे तो स्वस्थ पौधे को ले। इसके साथ ही साथ यह भी जानकरी ले के कब इस पौधे में क्या बदलवा होंगे और आपको अब क्या करने होंगे।

इंतजार करें

जब आप फूल की खेती करे तो आप धैर्य बना कर रखे। किसी भी तरह की खेती में समय तो लगता ही है। उसी तरह फूल की खेती में भी समय लगेंगे। आप पुरे लगन और ईमानदारी के साथ खेती के जरूरी कामो को करे। आपको बहुत जल्द और बहुत अच्छा सफलता मिलेगा।

यह भी पढ़ें: घर पर खाद कैसे बनाये

फूल की खेती (phool ki kheti) की जानकरी

फूल की खेती की जानकरी
फूल की खेती की जानकरी flower farming

कम निवेश से शुरू

अगर आपके पास कुछ जमीन है तो आप इस खेती को काफी कम पैसो के साथ शुरू कर सकते है और पैसे कमा सकते है। इस खेती में खाद्य की जरूरत होती है फिर भी अगर आपके पास गाय, भैस, या बकरी है तो आप खाद्य का इंतजाम काफी आसानी से कर लगे।

दो कारोबार कर सकते है

अगर आप ने फूल की खेती (phool ki kheti) शुरू की है तो आप इसके अलावा मधुमक्खी की खेती भी कर सकते है। या फिर आपने पहले से ही मधुमक्खी पालन कर रखा है तो आप फूल की खेती (flower farming) को शुरू करे। क्योंकि यह दोनों एक दूसरे पर काफी निर्भर करते है।

यह भी पढ़ें: मधुमक्खी पालन बिज़नेस के बारे में कुछ जानकारी

बेचना काफी आसान

जैसे कि किसी भी कारोबार का सामान बेचने में मुश्किल होती है। पर फूलो को बेचना काफी आसान है। आप फूलो को दो जगहों पर बेच कर काफी आसानी से पैसे कमा सकते है। पूजा के स्थान पर और मंडी में। मंडी में तो फूलो का मूल्य तय होता है। पर पूजा के स्थान पर आप अपने हिसाब के मूल्य से बेच सकते है। इस दोनों के अलावा भी काफी जगहो पर फूल की काफी मांग होती है। जैसे इत्र बनाने वाली कंपनी में।

Advertisement
Previous articleआसान तरीके से वजन बढ़ाने के नियम, उपाय और सुझाव जिससे वजन बढ़ाया जा सकता है weight gain tips in hindi
Next articleवह कुछ पुरानी लव स्टोरी वाली फिल्म जो आज भी हमारे दिल में मौजूद है, जिन्हे आज भी देखा जाता है
My name is sakina. I am an SEO expert, social media marketer, as well as a content writer. the writing content is my hobby. I like to write content in Hindi. I know one thing is content is king.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here