Gap Certificate Online कैसे बनवाएं | गैप सर्टिफिकेट क्या होता है, जाने पूरी जानकारी

0

Gap Certificate:- यह तो हम सब भलि भांति जानते है। कि जब हम पढ़ाई कर रहे होते है। कई बार ऐसा होता है। कि हमारा पढ़ाई के बीच किसी कारणवश गैैप हो जाता है। इसके बाद हमको दोबारा पढ़ाई के लिए दाखिला लेने के लिए Gap Certificate की आवश्यकता पड़ती है। अगर आपको अपनी पढ़ाई को शुरू करने के लिए किसी कॉलेज या संस्था में प्रवेश लेते है। तो इसके लिए आपको अपनी गैप सर्टिफिकेट दिखाना पड़ता है। गैप सर्टिफिकेट मे पढ़ाई को बीच मे छोड़ने का कारण दिया होता है। पढ़ाई को बीच मे छोड़ने का क्या कारण था उस दौरान आपने क्या किया? इसको बताने के लिए आपको गैप सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ेगी।

प्रिय मित्रो आज हम आपको अपने इस लेख मे गैप सर्टिफिकेट से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है। अगर आप भी अपनी पढ़ाई बीच मे छोड़ चुके है। और फिर से पढ़ाई को शुरू करना चाहते है। तो आपको गैप सर्टिफिकेट बनवाना होगा। इसके आपको यह लेख को ध्यानपूर्वक अन्त तक अवश्य पढ़ना होगा।

Gap Certificate क्या है?

यह एक प्रकार का दस्तावेज़ होता है। जिसमे आपके द्वारा लिए गए पढ़ाई के बीच मे गैप का प्रमाण होता है। इस सर्टिफिकेट मे प्रमाणित होता है। कि आपने गैप क्यू किया है। उस दौरान आपने क्या किया है। गैप सर्टिफिकेट एक प्रकार का गैर न्यायिक स्टाम्प पेपर पर खुद के द्वारा लिखा हुआ एक Statement होता है। जिसमे आपको यह बताना होता है। कि आपने जो अपनी पढ़ाई के बीच गैप किया है। उसका क्या कारण है। अगर किसी वित्तीय समस्या के कारण आपने अपनी पढ़ाई को बीच मे छोड़ा है। या कही जॉब या दोबारा एडमिशन लेने के लिए आपने Yearly Gap किया है। तो आपको Gap Year Certificate बनवाना पड़ता है।

इसकी मदद से आप अपनी पढ़ाई को फिर से जारी रख सकेगें। गैप प्रमाण पत्र आप किसी वकील या रजिस्ट्रार के जरिए बनवा सकते है। आप इस सर्टिफिकेट के लिए चाहे तो ऑनलाइन ऑफिशियल वेबसाइट पर भी आवेदन कर सकते है।

National Scholarship Portal

गैप सर्टिफिकेट बनवाने के कारण

Gap Certificate को बनवाने के बहुत से कारण हो सकते है। जिनमे से कुछ निम्नलिखित है।

  • कई बार देखा गया है कि मेडिकल या हेल्थ इमरजेंसी के कारण भी गैप हो जाता है।
  • या कभी अचानक पारिवारिक इमरजेंसी के कारण भी अपनी शिक्षा को बीच मे छोड़ना पढ़ जाता है।
  • घर की आर्थिक स्थिति ठीक ने होने के कारण गैप लेना पड़ जाता है।
  • कुछ माता पिता जल्दी विवाह कर देते है। इस कारण भी पढ़ाई मे गैप हो जाता है।
  • जॉब मिलने के बाद भी पढ़ाई पूरी नही हो पाती है। यह भी शिक्षा मे गैप का मुख्य कारण है।
  • कुछ लोग पढ़ाई पूरी होने से पहले ही अपना कारोबार आरम्भ कर लेते है। यह भी एक बीच मे पढ़ाई छोड़ने की बड़ी बजह है।

12th के बाद Gap Certificate कैसे बनाएं?

अगर आपने बारहवी कक्षा के बाद एक या दौ वर्ष का गैप लिया है। इसके बाद आप कोई कोर्स करना चाहते है। तो आपको कॉलेज मे दाखिला लेने के लिए गैप सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है। ऐसे मे जब आप किसी कॉलेज, संस्था या यूनिवर्सिटी मे एडमिशन के लिए एडमिशन के लिए अप्लाई करते है। तो आपको गैप कारण बताना होगा। आपने क्यो पढ़ाई को बीच मे छोड़ा है। गैप सर्टिफिकेट के लिए आप किसी भी वकील से 100 या 200 रूपेय Gap Year के लिए स्टाम्प पेपर बनवा सकते है। और उस स्टाम्प पेपर पर पढ़ाई छोड़ने का कारण दर्ज करा सकते है।

गैप सर्टिफिकेट के बनवाने के लिए आपको अपने सभी शैक्षणिक दस्तावेज़ भी देने होते है। ताकि एडमिशन देने वाली अथॉरिटी जान सके। कि आपने जो भी जानकारी दी है। वह सत्य है। जिसके बाद आपको कॉलेज मे दाखिले के समय Gap Certificate जमा करना होता है। जिसके माध्यम से आपको आसानी से एडमिशन दिया जाएगा।

PM CM Internship Scheme

गैप सर्टिफिकेट के लिए जरूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड।
  • मार्कशीट।
  • ट्रांसफर सर्टिफिकेट।
  • डिग्री का प्रमाण पत्र।
  • जन्म प्रमाण पत्र।
  • पहचान पत्र।

ऑफलाइन गैप सर्टिफिकेट कैसे बनाएं?

अगर आप Gap Certificate बनवाना चाहते है। तो इसके लिए आप ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनो ही माध्यम से आवेदन कर गैप सर्टिफिकेट बनवा सकते है। ऑफलाइन गैप सर्टिफिकेट बनवाने के लिए आपको 50 या 100 रूपेय के स्टाम्प पेपर की आवश्यकता होगी। अगर आप चाहे तो 10 रूपेय का स्टाम्प पेपर भी ले सकते है। आप ऑफलाइन सर्टिफिकेट वकील के माध्यम से बनवा सकते है। गैप सर्टिफिकेट के लिए आपको किसी टाईप राइटर से टाईपिंग करवानी होगी। आपको इसमे गैप का क्या कारण रहा है। उसका सही कारण दर्ज करवाना होगा। स्टाम्प पेपर पर आपको टाईप कराने के बाद वकील द्वारा टिकट और उसकी मोहर लगवानी होगी। आपको इस स्टाम्प पेपर की नोटरी करानी होगी। इसके लिए आपको 50 या 100 रूपेय वकील को देने पड़ सकते है। इस प्रक्रिया के बाद आपको ऑफलाइन गैप सर्टिफिकेट बना जाएगा।

Gap Certificate ऑनलाइन बनवाने की प्रक्रिया

  • इसके लिए आपको सबसे पहले इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके समक्ष वेबसाइट का होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको Gap Certificate का फॉर्म दिखाई देगा।
  • अब आपको इस फॉर्म मे पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपू्र्वक दर्ज करना है। जैसे कि
  • आपको अपने राज्य का चयन करना है।
  • पिता का नाम।
  • पता।
  • शिक्षा का विवरण।
  • पास होने की तिथि।
  • अन्य जानकारी।
  • स्टाम्प पेपर की कीमत इत्यादि।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको निचे दिए गए Add to Cart के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आपकी ऑनलाइन पेंमेट हो जाएगी।
  • इसके बाद आपकी Gap Certificate के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।
  • इसके बाद आपका सर्टिफिकेट आपको दिए गए पते पर भेज दिया जाएगा।

FAQs

गैप सर्टिफिकेट को हिन्दी क्या कहते है?

Gap Certificate को हिन्दी मे अंतराल प्रमाण पत्र भी कहा जाता है।

Gap Certificate क्या है?

गैप सर्टिफिकेट एक गैर न्यायिक स्टाम्प पेपर पर दिया गया स्वघोषित दस्तावेज़ होता है। जो स्पष्ट रूप से किसी व्यक्ति की गैप ईयर की अवधि का कारण बताता है।

अंतराल प्रमाण पत्र के लिए कौन पात्र है?

अंतराल प्रमाण पत्र की आवश्यकता उस विद्यार्थी को होगी। जिसने 12 के बाद एक या एक से अधिक वर्षो का गैप लिया है। और गैप अवधि के बाद किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी मे प्रवेश के लिए आवेदन कर रहा है।

गैप सर्टिफिकेट कैसे बनवाया जाता है?

Gap Certificate आप ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनो माध्यम से बनवा सकते है।

Gap Certificate ऑफलाइन कैसे बनवाया जाता है?

यह सर्टिफिकेट आप ऑफलाइन के माध्यम से किसी वकील या रजिस्ट्रार से बनवा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here