जल जीवन मिशन स्कीम (ग्रामीण) | Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme की पूरी जानकारी

0

Jal Jeevan Mission Scheme:- केन्द्र सरकार ने जल शक्ति मंत्रालय द्वारा शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको के घरो तक पेय जल की व्यवस्था सुचारू रूप से देने के उद्देश्य से एक मिशन की शुरूआत की गई है। इसका नाम Jal Jeevan Mission है। इस मिशन की शुरूआत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा 15 अगस्त 2019 को की गई है। इस मिशन के अन्तर्गत देश के शहरी एँव ग्रामीण क्षेत्र 50% से अधिक नागरिको के घर तक पीने के स्वच्छ जल व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। देश मे अब तक 18 करोड़ ग्रामीण परिवारो को जल स्त्रोत प्रदान किया जा चुके है।

जल जीवन मिशन के लिए केन्द्र सरकार ने 350 लाख करोड़ रूपेय के बजट राशी निर्धारित की है। प्रिय मित्रो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से जल जीवन मिशन से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएगें। आप इस आर्टिकल को विस्तारपूर्वक अन्त तक अवश्य पढ़े।

Jal Jeevan Mission (Rural) Scheme

देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा जल जीवन मिशन की शुरूआत की गई है। हमारे देश मे आज भी अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक ऐसे है जिनके के पास पानी के स्त्रोत उपलब्ध नही है। इस कारण उनको पीने के स्वच्छ जल की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। इसी समस्या को मध्यनज़र रखते हुए केन्द्र सरकार ने Jal Jivan Mission को लॉन्च किया है। सरकार इस मिशन के माध्यम से निश्चित रूप से शहरी एंव ग्रामीण क्षेत्र सभी वंचित नागरिको तक नल जल पहुँचाने मे मदद करेगी जल शक्ति मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2019 से लेकर अब तक देश मे 18 प्रतिशत से अधिक ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको के घरो तक पेयजल की सुविधा उपलब्ध करायी जा चुकी है।

इसमे कुल 18 करोड़ ग्रामीण नागरिको मे से लगभग 6 करोड़ से अधिक परिवारो को पेयजल कनेक्शन उपलब्ध कराए गए है। केन्द्र सरकार का लक्ष्य वर्ष 2024 तक ग्रामीण क्षेत्र के सभी परिवारो तक पीने योग्य पानी के उपलब्ध कराना है। यदि आप भी Jal Jeevan Mission का लाभ प्राप्त करना चाहते है। तो इसके लिए आपको पहले ऑनलाईन आवेदन करना होगा।

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना

जल जीवन मिशन स्कीम के बारे में जानकारी

आर्टिकलJal Jeevan Mission
आरम्भ किया गयाप्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा।
कब आरम्भ किया गया15 अगस्त 2019,
सम्बन्धित विभागपेयजल और स्वच्छता विभाग एंव जल शक्ति मंत्रालय।
लाभार्थीदेश के नागरिक।
उद्देश्यनागरिको को जल स्त्रोत सुनिश्चित कराना।
लाभहर घर तक पानी पहुंचेगा।
बजट राशी3.50 लाख करोड़ रूपेय।
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन।
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://jaljeevanmission.gov.in/

Jal Jeevan Mission का उद्देश्य

केन्द्र सरकार द्वारा शुरू किये गये जल जीवन मिशन का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र मे रहने वाले सभी नागरिको को घर तक जल स्त्रोत सुनिश्चित कराना है। इस मिशन को सरकार ने हर घर जल योजना का नाम भी दिया है। देश मे आज भी कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे है जिनमे पानी स्त्रोत उपलब्ध नही है। इसकी बजह से वहा के नागरिको को पीने के पानी तक के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है। नागरिको की इन्ही समस्या को देखते हुए सरकार ने Jal Jivan Mission की शुरूआत की है। इस मिशन के तहत जल स्त्रोतो से वंचित क्षेत्रो मे पाइपलाईन के माध्यम से जल उपलब्ध कराया जाएगा। सरकार का लक्ष्य वर्ष 2024 तक सभी पात्र लाभार्थियो को जल जीवन मिशन के तहत लाभान्वित किया जाएगा। और शीघ्र ही ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को नल जल का स्वच्छ पानी उपलबध होगा।

जल जीवन मिशन की लाभ एंव विशेषताएं

  • जल जीवन मिशन की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने की है।
  • इसका संचालन पेयजल स्वच्छता एंव जल शक्ति मंत्रालय द्वारा किया जाएगा।
  • इस मिशन के अन्तर्गत शहरी एंव ग्रामीण दोनो क्षेत्र के नागरिको को लाभान्वित किया जाएगा।
  • केन्द्र सरकार ने इसके लिए 3.50 लाख करोड़ रूपेय की बजट राशी निर्धारित की है।
  • Jal Jivan Mission के तहत छ करोड़ घरो तक जल पहुँचाना सुनिश्चित किया जाएगा।
  • इस मिशन के माध्यम से जल संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा।
  • JJM के तहत उपलब्ध कराया जाने वाला जल पीने योग्य होगा।
  • जल जीवन मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण क्षेत्र के ऐसे सभी परिवारो को पानी के कनेक्शन दिये जाएगें। जो अभी तक इस सुविधा से वंचित थे।
  • ग्रामीण क्षेत्र के सभी सर्वजनिक स्थानों जैसे स्कूल, ग्राम पंचायत भवन, आंगनवाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र इत्यादि मे भी जल स्त्रोत लगाएं जाएगें।
  • यह किसी भी राज्य के जिले क्षेत्र मे सरकार के जल एंव स्वच्छता मिशन के तहत कार्य स्टेट वाटर एंड सेनिटेशन मिशन द्वारा किया जाएगा।
  • नागरिको की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आवश्यक स्थानो पर बल्क वाटर ट्रांसफर शोधन संयत्र स्थापित किया जाएगें।

PM Garib Kalyan Yojana 

Jal Jeevan Mission के तहत पात्रता एंव मानदंड

  • जल जीवन मिशन स्कीम का लाभ लेने के लिए लाभार्थी जिस राज्य का निवासी है। वह उस राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।
  • उत्तराखंड राज्य हेतु JJM के तहत 90% फंड केन्द्र और 10% फंड राज्य सरकार द्वारा दिया जाएगा।
  • हिमाचंल प्रदेश सहित पूर्वोत्तर राज्य के लिए 100 प्रतिशत फंड केन्द्र सरकार वहन करेगी।
  • देश के अन्य राज्यो के लिए केन्द्र व राज्य सरकार के 50-50 फंड शेयर किया जाएगा।
  • Jal Jivan Mission का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास कुछ दस्तावेज़ जैसे आधार कार्ड, स्थायी मूल निवास प्रमाण पत्र एंव बैंक अकाउंट इत्यादि होना चाहिए।

जल जीवन मिशन बजट वित्तिय वर्ष के अनुसार

  • वर्ष 2019-20 मे केन्द्र सरकार ने 20 करोड़ 798 लाख और राज्य सरकार 15 करोड़ 202 लाख रूपेय की सहभागिता के साथ कुल बजट राशी 36 करोड़ रूपेय थी।
  • वित्तिय वर्ष 2020-21 के लिए केन्द्र सरकार द्वारा 34 करोड़ 753 लाख और राज्य सरकार द्वारा 25 करोड़ 247 लाख के बजट के साथ कुल राशी 60 करोड़ थी।
  • साल 2021-22 मे केन्द्र सरकार द्वारा 58 करोड़ 011 लाख और राज्य सरकार द्वारा 41 करोड़ 989 लाख के साथ कुल बजट राशी 100 करोड़ रूपेय थी।
  • 2022-23 के लिए 48 करोड़ 708 लाख रूपेय केन्द्र सरकार व 35 करोड़ 292 लाख रूपेय राज्य सरकार द्वारा कुल बजट राशी 84 हजार करोड़ रूपेय थी।
  • वर्ष 2023-24 मे Jal Jivan Mission के लिए केन्द्र सरकार द्वारा 46 करोड़ 382 लाख रूपेय और राज्य सरकार द्वारा 33 करोड़ 618 लाख रूपेय का बजट निर्धारित किया गया है। कुल बजट राशी 80,000 करोड़ रूपेय है।
  • वर्ष 2019 से 2024 तक के लिए केन्द्र की कुल सहभागिता 208652 लाख करोड़ रूपेय है। वही राज्य सरकार की 151348 करोड़ रूपेय की सहभागिता है।
  • कुल मिलाकर पांच वर्षो की केन्द्र व राज्य सरकारी की कुल बजट राशी 3,60,000 करोड़ रूपेय है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना

Jal Jeevan Mission लाभान्वित राज्यो की सूचीं

जल जीवन मिशन के अन्तर्गत किस राज्यो ने कितना लाभ प्राप्त किया है। इसका विवरण निम्नलिखित सूची में प्रतिशत के अनुसार दिया गया है।

राज्य का नामलाभान्वित राज्य प्रतिशत में
बिहार54.38%
गोवा24.3%
मिजोरम23.19%
हरियाणा21.12%
तेलंगाना69.56%
जम्मू कश्मीर14.94%
हिमाचल प्रदेश19.99%
मणिपुर20.78%
महाराष्ट्र15.4%
पश्चिम बंगाल1.44%
राजस्थान3.69%
उत्तराखंड14.97%
झारखंड3.36%
असम3.39%
लद्दाख2.25%
कर्नाटक1.40%
केरल1.78%

जल जीवन मिशन सम्बन्धित कुछ आकड़े

क्रम संख्याजल जीवन मिशन से सम्बन्धित परिवारआकड़े
1Household with tap water Connection (as of date)19, 44, 36, 602
2Rural household with tap water connection on 28 April 202311, 88, 20, 052 (61.11%)
3Household with tap water Connection (as on date)9, 67, 75, 782 (50.44%)
4Household provided with tap water connection since launch of the Mission8, 64, 57, 214 (53.34%)

सम्पर्क विवरण

अगर आपको Jal Jivan Mission से सम्बन्धित किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है। तो आप निम्नलिखित टोल फ्री नम्बर पर सम्पर्क कर अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है।

टोल फ्री नम्बर- 011-24362705

फैक्स       – 011-24361062

FAQs

जल जीवन मिशन की शुरूआत कब और किसके द्वारा की गई है?

इसकी शुरूआत 15 अगस्त 2019 को शुभ अवसर पर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा की गई है।

Jal Jeevan Mission के तहत अब तक कितने लोगो को लाभ प्राप्त हो चुका है?

देश के ग्रामीण क्षेत्र के लगभग 3 करोड़ परिवारो को इसका लाभ प्राप्त हो चुका है।

जल जीवन मिशन का लाभ किन किन नागरिको को प्राप्त होगा?

इस मिशन का लाभ शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के दोनो के नागरिको को प्राप्त होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here