(आवेदन) उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2023: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लाभ व कार्यान्वयन

0

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2023:- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों का विकास करने के लिए UP Mathrubhumi Yojana का शुभारम्भ किया गया है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों का इन्फ्राट्रक्चरल विकास सरकार एवं नागरिको दोनों के सहयोग द्वारा किया जाएगा। आज हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है। यदि आप इस योजना के अंतर्गत अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे पेज को अंत तक पढ़े।

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2023

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2023 की शुरुआत की गयी है। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों का विकास किया जायेगा और गाँवों में होने वाले अवस्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में नागरिको को सीधे  हिस्सेदारी प्रदान की जाएगी। सरकार इस योजना के तहत परियोजना लागत का 50 % खर्चा स्वंय वहन करेगी। और शेष बचा हुआ 50 % योजना के तहत हिस्सेदारी लेने वाले इच्छुक नागरिक द्वारा वहन किया जायेगा। जिसके बदले में परियोजना का नाम सहयोगी व्यक्ति को इच्छा के अनुसार रखा जायेगा। जिससे लाभार्थी को आधा खर्च वहन करने परियोजना का पूरा श्रेय प्राप्त होगा।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना को औपचारिक रूप से शुरू करने के लिए ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग को कार्ययोजना प्रस्तुत करने के दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। यह योजना राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों का विकास करने के साथ-साथ नागरिकों का भी विकास करने में बहुत ही कारगर साबित होगी।

UP Rojgar Mela

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2023 के बारे में जानकारी

योजना का नामUttar Pradesh Mathrubhumi Yojana
आरम्भ की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के लोग
उद्देश्यग्रामीण क्षेत्रों का विकास करना
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
वर्ष2023
आवेदनऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही शुरू की जाएगी

UP Mathrubhumi Yojana का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के गांव का नागरिकों के साथ मिलकर इन्फ्राट्रक्चरल विकास करना है। इस योजना के तहत परियोजना लागत का आधा खर्चा सरकार द्वारा और आधा खर्चा परियोजना में भागीदारी लेने वाले नागरिक द्वारा उठाया जाएगा। सहयोगी नागरिक द्वारा परियोजना का नाम अपनी इच्छा से रखा जा सकता है। इसके अलावा परियोजना की सफलता का पूरा श्रेय भी सहयोगी नागरिक को ही दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन

मातृभूमि योजना के तहत सरकार द्वारा पंचायत सहायको को भी किया जायेगा नियुक्त

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना को सरकार एवं नागरिकों के सहयोग से राज्य के गांवों का विकास करने के लिए शुरू किया गया है। अब सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत सहयोग करने वाले नागरिकों से बातचीत करने के लिए पंचायत सहायकों को नियुक्त करने का भी फैसला लिया गया है। इसके अलावा पंचायत सहायकों द्वारा योजना से जुड़ी जानकारी प्रशासन को भी उपलब्ध करवाई जाएगी। राज्य सरकार द्वारा पहली बार इस योजना के तहत पंचायत सहायकों की नियुक्ति की जा रही है। नियुक्त किए गए पंचायत सहायकों को सरकार और दानदाता द्वारा प्रदान की जाने वाली धनराशि में से लगभग 10000 का भुगतान किया जाएगा।

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana को शुरू करने की घोषणा

15 सितंबर सन् 2021 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के सरकारी आवास 5 कालिदास मार्ग में एक वर्चुअल कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम के दौरान उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना को शुरू करने की घोषणा की गई थी। इसके अलावा कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री जी ने यह भी जानकारी प्रदान की है कि सरकार गांवों के सामाजिक विकास के लिए लगातार कार्यरत है। इसी बात को मद्देनजर रखते हुए मातृभूमि योजना की शुरुआत की गई है।

उत्तर प्रदेश के गांवों में इस योजना के माध्यम से स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाडी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यामशाला, ओपन जिम, फायर सर्विस स्टेशन एवं पशु नस्ल सुधार केंद्र आदि की स्थापना की जाएगी। नागरिकों की हिस्सेदारी स्मार्ट विलेज का निर्माण करने के लिए सीसीटीवी लगवाने, सोलर लाइट, सीवरेज के लिए एसटीपी प्लांट लगवाने में की जाएगी। सरकार की यह योजना गांव एवं उनमें रहने वाले निवासियों का विकास करने में बहुत ही कारगर साबित होगी।

ज्योतिबा फुले श्रमिक कन्यादान योजना

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के लाभ एवं विशेषताएं 

  • उत्तरप्रदेश मातृभूमि योजना को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 सितम्बर 2021 को आरम्भ किया था। 
  • इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत संरचनाओं यानी इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास करना चाहती है।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा परियोजना के तहत होने वाली लागत का 50% वहन किया जाएगा और खर्च 50% नागरिक के द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत विकास कार्यों के लिए 50 % राशि सरकार देगी और 50 % राशि संबंधित व्यक्ति को देनी होगी।
  • इस योजना के माध्यम से गांवों में स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यामशाला, ओपन जिम, पशु नस्ल सुधार केंद्र, फायर सर्विस स्टेशन आदि की स्थापना की जा सकेगी।
  • इसके अलावा सीसीटीवी लगवाना, सोलर लाइट, सीवरेज के लिए एसटीपी प्लांट लगवाने में भी नागरिकों की भागीदारी होगी।
  • इस योजना के माध्यम से गांवों में होने वाले अवस्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में नागरिकों को सीधे हिस्सेदारी प्रदान की जाएगी।

Mathrubhumi Yojana की पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • केवल ग्रामीण क्षेत्रों के लोग ही इस योजना में आवेदन करने के लिए पात्र माने जाएंगे।
  • उम्मीदवार के पास सभी आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध होना चाहिए।                               

UP Bijli Bill Mafi Yojana 

यूपी मातृभूमि योजना जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय का प्रमाण
  • आयु का प्रमाण
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी   

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2023 की आवेदन प्रक्रिया

हम आपको बता दे की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा अभी इसकी सिर्फ घोषणा की गई है। अगर आप इस योजना के तहत आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। क्यूंकि अभी इसक आधिकारिक वेबसाइट लांच नहीं की गई है। जैसे ही सरकार इसकी आधिकारिक वेबसाइट लांच करती है। तो हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आवश्यक  बतायेगे। आपसे निवेदन है कि आप हमारे आर्टिकल से जुड़े रहना। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here