पर्सनालिटी डेवलपमेंट के आसान तरीके जिससे अपनी पर्सनालिटी डेवलपमेंट किया जा सकता है

Advertisement


हम सभी के पास कुछ खास व्यक्तित्व लक्षण होते हैं जो हमें बाकी चीजों से अलग करते हैं। ये लक्षण परिभाषित करते हैं कि हम परिस्थितियों और लोगों के प्रति कैसे प्रतिक्रिया करते हैं।

हर व्यक्ति में अच्छाई भी होती है तो बुराई भी. ऐसा माना जाता है कि किसी व्यक्ति का मूल व्यवहार निश्चित होता है जिसे बदला नहीं जा सकता , परन्तु निरंतर प्रयास से हम अपने व्यक्तित्व में परिवर्तन ला सकते हैं.

हम चाहें तो खुद का सबसे अच्छा संस्करण बन सकते हैं। तो, यदि आप दुनिया के लिए एक उदाहरण बनने के इच्छुक हैं, तो यहां आपकी सहायता के लिए व्यक्तित्व विकास के कुछ सुझाव दे रहे हैं जो आपके व्यक्तित्व को तो निखारेंगे ही साथ ही आपके आत्म विश्वास में भी बढोत्तरी करेंगे

यह भी पढ़े: सफल लोगो की आदत

पर्सनालिटी डेवलपमेंट के आसान तरीके

1. आप अतुलनीय हैं

आप दूसरों के साथ खुद की तुलना करके अपने आत्मसम्मान को नीचे लाते हैं। यह आपके व्यक्तित्व को दबा देता है और आपकी खूबियों को खिलने नहीं देता है।

हमेशा अपने आप को अद्वितीय माने और दूसरो को भी क्यूंकि हर इंसान अपने आप में अतुलनीय है. हर किसी में कुछ न कुछ ख़ास ज़रूर है जो उसे दूसरो से अलग बनाता है.

तो बस आज से ही दूसरो से खुद की तुलना बंद करें और खुद को बेहतर बनाने का प्रयास करें.

2. खुद के प्रति भी दयालु बने

हमें दूसरों के प्रति दयालु होना सिखाया जाता है। फिर भी, हममें से बहुत से लोग खुद के प्रति दयालु होने में असफल होते हैं। अध्ययनों से पता चलता है कि आत्म-करुणा आशावाद, बहिर्मुखता, ज्ञान, खुशी, सकारात्मकता और लचीलापन जैसे सकारात्मक लक्षण लाती है।

अपने आप को लेकर आपका रवैया कैसा है इस पर विचार करने के लिए इन बिन्दुओ पर विचार करे-
1. पहचानें कि क्या आप किसी और की तरह देखभाल और चिंता के लायक? और यही कारण है कि आपको स्वयं के साथ दयालु और समझदार होना चाहिए।क्यूंकि यदि आपको लगता है की आपको दूसरो की दया की ज़रुरत है तो आप कैसे दूसरो पर दया कर पायेगे.

2. यह स्वीकार करें कि गलतियाँ करना और असफल होना जीवन का हिस्सा है। इसलिए, जब आप गलती करते हैं या असफल होते हैं तो खुद को या किस्मत को कोसकर खुद को नकारात्मक विचारों में गुम न करें ,अपने आप पर कठोर मत बनिए ।

3. कोई भी सम्पूर्ण नहीं होता

लोग और परिस्थितियाँ हमेशा आपकी पूर्णता के फ्रेम में फिट नहीं होती हैं। कोई भी व्यक्ति सर्वश्रेष्ट नहीं हो सकता इसलिए अपनी कमियों को जानकार उन्हें दूर करने का प्रयास करे. पर कभी भी सम्पूर्ण बनने की होड़ में अपने आपको हतोत्साहित न होने दें.

Advertisement

4. मन को स्थिर रखे

ज्यादा सोच विचार अक्सर हमे निराशा की और ले जाता है इसलिए क्रोध, ईर्ष्या या लालच जैसी किसी भी नकारात्मकता को अपने मन में बहुत लंबे समय तक न रहने दें।

इसके बजाय, इसे आसानी से लेना सीखें; जैसे आसानी से क्षमा करें और लोगों के खिलाफ शिकायतें करना छोड़ें। मन और हृदय से हल्का होना आपको भीतर से वास्तव में खुश करता है। और खुश लोगों को कौन पसंद नहीं करता है?

यह भी पढ़े: खुश रहने के फायदे

5. उत्साह बनाए रखें

उत्साह बनाए रखें


किसी भी काम को लेकर उत्साहित होना एक सकारात्मक लक्षण है ।जैसे बच्चे छोटी छोटी सी बातो पर भी उत्साहित हो जाते है यही कारण है कि हर कोई बच्चों को प्यार करता है। जीवन में विपरीत परिस्थितियों तो आती ही रहती है पर किसी को भी अपना उत्साह नहीं छोड़ना चाहिए।

यह भी पढ़े: खुश कैसे रहे

6. कुशल वक्ता और श्रोता बने

कन्नड़ में एक दोहे में कहते हैं कि जो शब्द हंसी पैदा कर सकते हैं और वही दुश्मनी भी पैदा कर सकते हैं। एक कुशल वक्ता लोगों और प्रतिकूल परिस्थितियों पर विजय प्राप्त कर सकता है। इसलिए, अपने व्यवहार में स्पष्टता लाएं।

बोलने से पहले विचार करें की आप की बातो का अन्य व्यक्तियों पर क्या प्रभाव पड़ सकता है. इसके साथ ही अन्य लोगो की कही बातो को भी संयम से सुने.

हम सभी ऐसे लोगों को पसंद करते हैं जिनके साथ हम आसानी से बात कर सकते हैं और उनसे बात कर सकते हैं। कोई भी ऐसे व्यक्ति को पसंद नहीं करता है जो सीधे चेहरे के साथ प्रतिक्रिया करता है। सबके साथ मित्रवत रहें और मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहें।

7. अपना खुद का स्टाइल बनाये

स्टाइल के साथ चीज़ें करना आपके व्यक्तित्व में जोश भरता है। स्टाइल के साथ चीजें करने का रहस्य जुनून और एक शांत दिमाग के साथ काम करने में निहित है। इसलिए, जब आप किसी चीज़ पर काम करते हैं, तो आप अपनी सारी ऊर्जा उसमें लगाने से कुछ भी विचलित न होने दें। साथ ही साथ तनावमुक्त रहें।

8. चुनौतियों का डट कर सामना करे

दबाव में आये बिना आत्मविश्वास से हर चुनौती का सामना करिए । या तो आप प्रतिकूलता को दूर करेंगे या कुछ अमूल्य सीखेंगे।

9. हर परिस्तिथि में सकारात्मकता बनाये रखे

शांत रहने से व्यक्ति का व्यक्तित्व मजबूत होता है। हालांकि, शांत रहना मुश्किल हो सकता है
पर शांत रहने से कई बार विपरीत परिस्तिथियों में भी हम सकारात्मक बने रह सकते हैं. और यही वो गुण है जो आपको सबसे अधिक लोकप्रिय बना सकता है.

Advertisement

तो यह वो कुछ गुण है जिन्हें अगर आपने जीवन में उतार लिया तो आप निश्चय ही अपने व्यक्तित्व में अभूतपूर्व परिवर्तन महसूस करेंगे.

यह भी पढ़े: दुसरो की तारीफ करने का तरीका

Advertisement

Previous articleअच्छे दोस्तों की पहचान क्या क्या होते है? अच्छे दोस्तों को पहचाने
Next articleपढाई कैसे करे जो याद रहे, यह 11 टिप्स जिससे पढ़ा हुआ याद रहेगा
आपका tvhindinews.com पर स्वागत है। हमें success rules, tips और जीवन से जुडी बातें लिखना पसंद है। हम आपके साथ अच्छा से अच्छा ज्ञान share करते है। Email ID: [email protected]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here