benefits of goat farming business in Hindi बकरी पालन व्यवसाय के लाभ हिंदी में

0

जब हम कोई भी बिज़नेस शुरू करते है तो हमें उस बिज़नेस करे से कुछ फायदा होता है तो कुछ नुकसान। यह पर हम यही देखेंगे की बकरी पालन (goat farming) के क्या कुछ फायदे और नुकसान है।

यहाँ पर हम बाकरी पालन के फायदे (benefits of goat farming) देखेंगे।

वैसे अगर बात करे की बकरी पालन पालन के कितने नुकसान है तो नुकसान बिल्कुल काम अगर कोई किसान इस बिज़नेस को करता है तो उसे कोई भी नुकसान नहीं हो सकता।

बकरी पालन का बिज़नेस बहुत पहले से चलता आ रहा है। बकरी पालन हर एक किसान हमारे देश में करता है।

इस दौर में अब काफी पढ़े लिखे लोग भी बकरी पालन के बिज़नेस में आ रहे है और इस बकरी पालन का बिज़नेस शुरू कर रहे है।

बकरी पालन का बिज़नेस भविष्य में चलकर काफी बड़ा होने की आशंका है।

यह भी पढ़ें: goat farming का business कैसे शुरू करें

बकरी पालन के लाभ benefits of goat farming

कम निवेश शुरू कर सकते है

इस बिज़नेस यह बहुत अच्छी खासियत (benefit of goat farming) है की आप इस बिज़नेस को बहुत ही काम लगत में शुरू कर सकते है।

ऐसे बहुत से लोग है जो की बिज़नेस शुरू तो करना कहते है पर वह नहीं कर पाते इसका कारण है बिज़नेस को शुरू करने में लगाने वाला निवेश।

पर यह उन बिज़नेस में से एक है जिसे काम पैसो में भी शुरू किया जा सकता है। इस बिज़नेस को एक गरीब इंसान, औरत भी शुरू कर सकती है।

यह बिज़नेस उनके लिए एक नियमित कमाई का जरिया बन सकता है। बकरी के माध्यम से दूध, फाइबर, और मॉस मिलता है तो इस बिज़नेस से कई माध्यम से कमाया सकता है।

आसान रखरखाव

बकरियों को पालना और उनका रखरखाव बहुत ही आसान होता है। बकरियों का रखरखाव इतना आसान होता है की उनका रखरखाव एक महिला या बच्चा भी कर सकता है।

हम आपको बता दे बकरी के रखरखाव कुछ जरुरी कार्य होता है जैसे, चारा डालना, दूध निकलना, बकरियों के बच्चों को दूध पिलाना, और साफ सफाई करना।

यह कुछ ऐसे कार्य है जो हर रोज करना होता है। यह सब कार्य करने के लिए आपको किसी भी प्रकार की कोई मशीन खरीदने की जरूरत नहीं होती है।

और नहीं काम करने वालो को रखने की जरूरत होती है। यह सब कार्य एक आदमी भी कर सकता है। अगर आपको बकरी पालन ज्यादा बड़ा नहीं है तो।

अधिक क्षेत्र की भूमि की आवश्यकता नहीं है

इस बिज़नेस की जो दूसरी खासियत (benefits of goat farming)है वह है की इस बिज़नेस को करने के लिए आपको अधिक क्षेत्र की भूमि की आवश्यकता नहीं है।

अगर कोई किसान इस बिज़नेस को करता है तो वह बड़े आराम से बकरी को पाल सकते है। बकरिया बहुत इंसान के करीबी होती है तो ऐसे बहुत से लोग है,

जो अपने घर में ही बकरी को पालते है। वह बकरिया किसी भी रसी से नहीं बाँधी रहती वह उस घर के सदस्य के तरह ही होती है।

यह काफी तेजी से अपनी प्रजाति बढ़ाते है।

इस की जो तीसरी खासियत (benefit of goat farming) है यह है कि यह काफी तेजी से अपनी प्रजाति बढ़ाते है।

हम आपको बता दे की एक बकरी 6-12 महीने बाद बच्चा देने के काबिल हो जाती है। और एक बकरी हर 6 महीने पर 2 बच्चो को जन्म देती हैं। तो इनकी यह खासियत बहुत ही फायदे मंद होती है।

अच्छा और बराबर दाम

हम आपको बता दे की यह खासियत(benefit) इस बिज़नेस को काफी सफल बनता है। बकरी के मास का दाम मार्किट में बहुत ज्यादा होता है।

बकरे ले मास को खाने वाले काफी लोग है इसलिए इसका दाम भी ज्यादा है। वही दूसरी तरफ बकरे और बकरी का दाम मार्किट में एक बराबर ही होता।

इसमें कोई फर्क नहीं होता की बकरे का दाम ज्यादा और बकरी का दाम काम। दाम मॉस पर ही निर्भर करता है।

रोगों की कम संभावना

ऐसे बहुत से बीमारिया होती है जो की जानवरो में आए दिन लग जाती है।

ज्यादा तर बीमारी मुर्गियों में लगता है। पर बकरीयो में काफी काम बीमारी होती है और बकरी उन बीमारी से ठीक भी हो जाती है। इनका शरीरी बीमारियों से लड़ने में काफी मजबूत होता है।

प्राकृतिक फर्टीलिज़ेर- benefits of goat farming

इस समय हर कोई कार्बनिक खाद्य को पसंद करते है। यह इसलिए है क्योंकि कार्बनिक खाद्य के भोजन का बहुत ज्यादा माँग।

तो हम आपको बता दे की बकरी पालन से आपको काफी कार्बनिक खाद्य मिल जाएगा। इस कार्बनिक खाद्य को आप मार्किट में बेच सकते है या आप खुद आपने खेत में भी प्रयोग कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here