बेस्ट 10 सेल्फ इम्प्रूवमेंट टिप्स सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने के लिए हिंदी में self improvement tips in hindi

Loading...

self improvement का हिन्दी मतलब आत्म सुधार होता है। हर एक व्यक्ति के लिए सेल्फ इम्प्रूवमेंट बहुत ही जरुरी होता है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट से हम खुद को पहले से बेहतर बनाते है। हम अपने अंदर में काफी तरह के बदलाव करते है। यह बदलाव अच्छे होते है और हमें हमारी जीवन में मदद करती है। जिंदगी जीने के लिए और कामयाब होने के लिए। इस पोस्ट में हम सेल्फ इम्प्रूवमेंट के बारे में जानेगे और और सेल्फ इम्प्रूवमेंट (self improvement in hindi) करने के तरीके भी जानेंगे।

सेल्फ इम्प्रूवमेंट एक ऐसा तरीका है जिससे हम खुद को पहले से बेहतर बनाते जाते है और फिर से पहले से बेहतर बनाते जाते है। एक दिन ऐसा आता है जब हम अपने लक्ष्य को हासिल कर लेते है। जैसे एक छात्र खुद को बेहतर करते करते एक दिन काफी सफल छात्र बन जाता है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने पर काफी तरह के किताब भी लिखे गए है।

यह भी जाने: कामयाब और सफल होने के लिए सफलता के मंत्र

सेल्फ इम्प्रूवमेंट करना क्यों है जरूरी?

सेल्फ इम्प्रूवमेंट करना हर एक इंसान के लिए बहुत ज्यादा जरुरी होता है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के मदद से कोई खुद को कामयाब और सफल बना पता है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने पर हमें वह हर एक चीज और कामियाबी को हासिल कर सकते है जिसकी हम चाह रखते है। आज जितने भी कामयाब व्यक्ति है उन सभी के अंदर सेल्फ इम्प्रूवमेंट है और सेल्फ इम्प्रूवमेंट ही उनकी कामियाबी होने का कारण बना है।

सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने के टिप्स self improvement tips

self improvement tips in hindi
self improvement tips in hindi

सेल्फ इम्प्रूवमेंट को जाना जितना जरुरी होता है उससे भी ज्यादा जरुरी होता है सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने का तरीका जाना और खुद में सेल्फ इम्प्रूवमेंट (self improvement in hindi) करना।

खुद जिम्मेदार बने

सेल्फ इम्प्रूवमेंट की शुरुआत उस दिन और उस समय ही होती है जब आप हर काम के लिए खुद जिम्मेदार बन जाते है। जब आप यह मान लेते है कि आज मैं जो कुछ भी उसका जिम्मेदार मैं खुद हु वही अब मैं आने वाले समय में जैसा बनुगा उसका भी जिम्मेदार मैं ही होने वाला हूँ। बस तब से ही आपके अंदर सेल्फ इम्प्रूवमेंट होना शुरू हो जाएगा। आपके अंदर खुद सेल्फ इम्प्रूवमेंट होने लाग जाएगे।

सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने के लिए अपनी बुरी आदत छोड़ दे

सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए सबसे पहले अपनी बुरी आदत को छोड़ना बहुत ही जरुरी होता है। हर एक इंसान के अंदर कुछ ना कुछ इसी बुरी आदत होती है जो व्यक्ति को आगे नहीं बढ़ने नहीं देती है। सबसे पहले आपको अपने बुरी आदत को जाना होगा। जब आप अपने बुरी आदत को जान ले तो धीरे-धीरे उस बुरी आदत को ख़त्म करे। अचानक किसी भी बुरी आदत को नहीं छोड़ा जा सकता है।

सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए लक्ष्य बनायें

लक्ष्य ही आपको प्रेरित करते है हर एक काम करने के लिए जो आपको लक्ष्य को हासिल करने में मदद करने में। बिना किसी लक्ष्य के कोई भी कुछ ऐसा नहीं कर सकता है जो काम उसे आगे चल कर फायदा दे। जिस व्यक्ति के पास कोई लक्ष्य नहीं होता है वह बस कुछ भी करते रहते है। ऐसे लोग अक्सर अपने समय को बर्बाद करते है। लेकिन सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए लक्ष्य बहुत ही जरुरी होता है।

लक्ष्य को ध्यान के साथ बनाये। अपने लक्ष्य में यह जरूर शामिल करे कि कब तक आपको इस लक्ष्य को पाना है और इसके लिए आपको हर रोज कितना काम करना होगा।

खुद को रोज लक्ष्य दे

सेल्फ इम्प्रूवमेंट करने के लिए आपको खुद को रोज एक लक्ष्य देना चाहिए। रोज का लक्ष्य बड़ा नहीं होना। वह लक्ष्य एक दिन में पूरा किया जा सके इसके साथ ही वह लक्ष्य आसान भी नहीं होना चाहिए। रोज खुद को लक्ष्य देना और उस लक्ष्य को हासिल करना आपके अंदर जितने का ऐटिटूड बना देगा। रोज के लक्ष्य आपके बहुत से काम को ख़त्म कर देंगे इसके साथ ही यह आपको रोज पहले से बेहतर बनने में मदद करेंगा।

बदलाव से ना डरे

बदलाव ही हमें पहले से और बेहतर बनाते है। आज आप जो कुछ भी है उसका कारण बस बदलाव ही है। वह बदलाव जिसने आपने पहले लिया। भले ही वह बदलाव आपने खुद ही लिया हो या फिर किसी कारण आपको लेना पड़ा हो। अगर आज कोई व्यक्ति कामियाब है या फिर कोई व्यक्ति आज असफल है। दोनों में कारण एक ही है बदलाव।

बदलाव जो आज से पहले लिया गया है। अक्सर कोई भी व्यक्ति किसी तरह का बदलाव नहीं लेना चाहता है। बस अगर जैसा चल रहा है वैसा ही चलता रहे। हम इंसान आज दूसरे जानवरों से इतने बुद्धिमान है तो इसका कारण बदलाव ही है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए बदलाव बहुत ही जरुरी है। किसी तरह के बदलाव ने ना डरे।

यह भी जाने: ज़िन्दगी जीने का तरीका

खुद को चुनौती देते रहे

खुद को चुनौती देने पर आप वह कर सकते है जो ऐसे कभी नहीं कर सकते है। अगर आप सुबह 6बजे सो कर उठते है तो खुद को चैलेंज दे की आप अब सुबह 4 बजे उठगे। ऐसे ही वह हर एक काम जो आप करना चाहते तो है लेकिन नहीं कर पाते है। तो आप खुद को उस काम करने के लिए चैलेंज करे।

चैलेंज को दिमाग एक तरह का भय और जरुरी काम मन लेते है। दिमाग को लगता है कि इस काम को इतने समय में करना और इस तरह से करना जरुरी है। अगर ऐसा नहीं किया गया तो किसी तरह का हानि हो सकता है। इसलिए दिमाग आपको वह काम कारने में मदद करता है।

अपने सेफ जोन से बाहर निकले

सेफ जोन वह काम या आदत है जिसको आप बड़ी आसानी के साथ कर सकते है। जैसे अगर आप दायाँ हाथ ब्रश करते है तो यह आपके सेफ जोन की आदत है। वही सुबह 6 बजे उठाना आपके लिए आसान है तो यह भी आपके सेफ जोन का हिस्सा है। जिस काम को आप बड़ी आसानी से कर सकते है।

उस काम को करने के लिए आपको ज्यादा ध्यान देना नहीं होता है तो वह आपक सेफ जोन ही है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए अपने सेफ जोन को छोड़ना होता है। हर वह काम जिसको आप आसानी से कर सकते है तो उसे काम से बड़ा काम करना ही सेल्फ इम्प्रूवमेंट करता है। जैसे अगर आप दायाँ हाथ ब्रश करते है तो आपको बायां हाथ से ब्रश करना चाहिए।

यह भी जाने: सफलता के सबसे अच्छे टिप्स

कुछ नया सीखते रहे

कुछ नया सीखते ही तो आपको पहले से अच्छा और नया ज्ञान देता है। कुछ नया सीखने से आप काफी कुछ सिख सकते है। रोज सीखने से इतना सीखा जा सकता है कि हमारे कम्पीटर कभी भी हमसे आगे नहीं निकल सकता है। रोज कुछ नया ज्ञान आपके सोचने के तरीके को बदलता रहता है। जब आपकी सोच बालेगी तो खुद ही आपकी आदत और काफी कुछ बदलने लगेगा। इस तरह आपके अंदर भी आत्म सुधार होने लगेगा।

काम को कल पर टालना बंद करे

कल कभी नहीं आता है। जो कुछ भी है आज है। लेकिन जो भी कामयाब नहीं होते है और कामयाब ना होने वाले व्यक्ति होते है वह अपने काम को कल पर टाल देते है। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए हर काम को समय पर करना जरुरी होता है। जिस काम को आज करना है उस काम को आज ही करना बहुत ही जरुरी होता है।

खुद को किसी से कम ना माने

खुद को किसी से कम माना या समझना, खुद के साथ अन्याय करना होता है। आप किसी दूसरे से कम नहीं है। अगर आपको से आज कोई ज्यादा कामयाब है तो इसका मतलब यह नहीं कि आप कामयाब नहीं हो सकते है। एक दिन आप उस व्यक्ति से भी ज्यादा कामयाब हो सकते है। बस आपको खुद पर विश्वाश रखना चाहिए। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए खुद को किसी दूसरे से कम ना माने।

खुद से सवाल करें

सवाल ही किसी तरह के बदलाव लेकर आते है। आपके सवाल ही आपको उस सवाल का जवाब खोजने को प्रेरित करेंगे। सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए आप खुद से ही सेल्फ इम्प्रूवमेंट के लिए सवाल पूछे। आप खुद से पूछे कि आप कैसे खुद को पहले से बेहतर बना सकते है। इसके साथ हर वह सवाल पूछे जो आपको सेल्फ इम्प्रूवमेंट में मदद करेंगे।

खुद की कमी को मजबूती बनाये

हर एक व्यक्ति के अंदर कुछ ना कुछ कमी होता है। जब तक कोई अपने कमी को अपनी ढाल यानी मजबूती नहीं बना लेता है तब तक वह खुद में बदलाव नहीं कर सकता है। काफी बार ऐसा भी होता है कि हमारे अंदर कुछ इसी कमी होती है जिसका मजाक दूसरे बनाते है। हमें इसके लिए दूसरों से लड़ना नहीं चाहिए बल्कि उस कमी को खुद की मजबूती बना चाहिए।

यह भी जाने: किस तरह से आप अपने पैशन को ढूंढ सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here