good manners for students in hindi छात्रों के लिए अच्छा व्यवहार

manner का हिंदी मतलब तौर तरीका होता है। एक छात्र के जीवन में उसका तौर तरीका ही तैय कर देता है कि वह छात्र कितना आगे जाने वाला है। एक इंसान की आदत और तौर तरीका उसका सबसे बड़ा पहचान होता है इसके साथ ही आदत और तौर तरीका भविष्य को तय कर देता है। एक अच्छे छात्र के अंदर अच्छा तौर तरीका (good manners for student) देखने को मिलता है तो वही एक असफल होने वाले के अंदर दूसरे प्रकार का तौर तरीका देखने को मिलता है।

हम आपको बता दे कोई भी छात्र कुछ थोड़ा बहुत मेहनत करके अपने तौर तरीका को बदल सकता है। अगर उस छात्र के अंदर अच्छे तौर तरीका नहीं है तो भी वह अच्छे तौर तरीका को सीख सकता है। हम आपको यह भी बता दे कि हमारे काफी तौर तरीका हमारे आस-पास के लोगो से सीखने को मिलता है। इसलिए अपने आस-पास एक काफी पढ़े लिखे लोग ही रखे।

यह भी पढ़े: सफल लोगो की 10 से भी ज्यादा आदत

पढ़ाई को सबसे अहम मानना

किसी भी छात्र के जीवन में सबसे अहम और जरूरी होता है पढ़ाई को सबसे जरुरी समझना। छात्र को अपने तौर तरीका और अपने दिमाग में हमेशा यह याद रखना चाहिए कि सबसे ज्यादा जरुरी उसकी पढ़ाई ही है। उसके बाद बाकि के काम। अन्य काम से तुरंत के लिए सफलता और ख़ुशी महसूस हो सकती है लेकिन पढ़ाई को करते रहने से जीवन पर के लिए ख़ुशी और गर्व महसूस होता रहेगा।

अपने से ज्यादा होशियार मित्र बनाना

एक कुंआ का मेढक मानता है कि सबसे बड़ा कुआ यही है और पूरा संसार यह है। ऐसा मेढक इस लिए मनता है कि वह कभी कुए से बाहर ही नहीं निकलता है। ठीक इसी तरह से एक छात्र को लगता है कि वही सबसे ज्यादा ज्ञानी है इस तब होता है जब वह छात्र अपने से कम ज्ञान वाले छात्र के साथ समय बिताता है।

इसके कारण वह समय के साथ नए ज्ञान को नहीं ले पता है। वह जो छात्र हमेशा अपने से ज्यादा ज्ञानी छात्र के साथ रहता है वह आगे बढ़ता जाता है। इसलिए एक छात्र को अपने से ज्यादा ज्ञानी छात्र को अपना दोस्त बनाना चाहिए। एक अच्छे मित्र की पहचान जरूर करें

किसी भी सवाल को बिना शर्म के साथ पूछना

एक कहावत है, जिसने किये शर्म उसके फूटे कर्म। एक अच्छे छात्र के शिष्टाचार में यह शामिल होता है कि वह अपने हर सवाल को बिना किसी भी प्रकार के शर्म किये पूछता है। वह यह मनाता है कि इसके आज ना सवाल पूछने के कारण उसको जीवन भर दिक्कत हो सकता है। दूसरे शब्दों में अच्छे छात्र का शिष्टाचार होता है किसी भी प्रकार के सवाल को बिना शर्म के पूछना। क्योंकि उसको ज्ञान लेना है। जब उसके पास ज्ञान होगा तो वह हर परीक्षा को सफलता के साथ हासिल कर लेगा।

यह भी पढ़े: दिमाग कैसे तेज करें

प्रतिदिन स्कूल जाना

ज्ञान को एक दिन में नहीं लिया जा सकता है। ज्ञान को लेने में काफी लम्बे समय तक लगतार मेहनत करना होता है।इसका साथ ही लम्बे समय तक मेहनत भी करना होता है। इस सभी के लिए प्रतिदिन स्कूल जाना जरुरी होता है। रोज थोड़ा-थोड़ा ज्ञान ही एक दिन काफी ज्ञान का भंडार होता है। प्रतिदिन स्कूल जाना एक अच्छे छात्र की आदत भी होती है।

किसी काम के होने पर धन्यवाद कहना

एक छात्र जो अभी अपने पढ़ाई के समय सिखता है उसे वह जीवन काल याद रखता है। किसी दूसरे से किसी भी काम को करवाने के बाद उसे तुरंत और प्रेम से साथ धन्यवाद कहना एक छात्र के तौर तरीका में शामिल होना चाहिए।

यह भी पढ़ें: सफलता के लिए बेहतरीन 10+ नियम

किसी गलती पर माफ़ कर दीजिये कहना

जब भी किसी भी प्रकार की गलती होने पर सबसे पहले मुझे माफ़ करे कहना चाहिए। वह गलती भले ही जाने में हुई हो या फिर वह गलती अनजाने में हुए हो सबसे पहले माफ़ी मांगनी चाहिए उसके बाद गलती का कारण धीमी आवाज में कहना चाहिए। छात्र के अच्छा तौर तरीको (good manners for student) में से एक है।

आँखों में देखते हुए अपनी बात को कहना

यह एक ऐसा तौर तरीका है जिसे छात्र से लेकर हर किसी को अपने तौर तरीका में शामिल करना चाहिए। किसी के आँखो में देखते हुए बात करने से हम अपनी फेल्लिंग दूसरो को देते है और दुसरो की फेल्लिंग खुद महसूस भी करते है। आँखो में देख कर बात करने से हम खुद को काफी अच्छे से किसी को अपने बारे में बिना कुछ कहे कह सकते है।

हमेशा खुश रहना

खुश रहने से काफी फायदा देखने को मिलता है। खुश रहने से छात्र का तनाव काफी कम हो जाता है। पढ़ाई में काफी मन लगता है। खुश रहने से हम दूसरो को अपने बारे में अच्छा महसूस करवाते है। जब छात्र खुश रहता है तो वह हर पढ़ाई को लम्बे समय तक याद भी रख सकता है।

यह भी पढ़े: खुश कैसे रहे

बिना इजाजत के किसी कमरे में ना जाना

किसी के भी कमरे में बिना इजाजत के अंदर ना जाना एक काफी अच्छी छात्र के लिए तौर तरीका (good manners for student) होता हैं। कभी भी किसी के कमरे में जाने से पहले दरवाजे को खटखटाना उसके बाद ही अंदर जाना चाहिए। अगर किसी कमरे में कोई भी नहीं है तो फिर कोई बात ही नहीं है।

किसी का मजाक ना बनाना

काफी छात्र ऐसे भी होते है जो किसी अन्य व्यक्ति का मजाक बनाते है। अन्य व्यक्ति कोई दूसरा छात्र हो सकता है, या टीचर या कोई अन्य। लेकिन ऐसा करना बहुत ही बुरी आदत में से एक आदत माना जाता है। छात्र को किसी भी अन्य व्यक्ति का मजाक नहीं बनाना चाहिए। सबका सम्मान करना चाहिए।

यह भी पढ़े: दूसरों की तारीफ करने का तरीका

सभी का सम्मान करना चाहिए

सभी का सम्मान करने का यह मतलब नहीं है कि बस अपने से बड़ो का सम्मान करना चाहिए। सभी चीज़, वस्तु, धर्म, आदि का दिल के साथ सम्मान करना एक अच्छे छात्र की आदत होती है और यह आदत अच्छे छात्र के तौर तरीका(good manners for student) में शामिल भी होता है।

सुबह जल्द उठाना

ज्यादातर छात्र को सुबह ही स्कूल जाना होता है। इसके साथ ही ऐसा रिसर्च में कहा गया है कि सुबह पढ़ने से वही पढ़ाई लम्बे समय तक याद रहता है। इसका साथ ही अन्य काफी फायदे होते है एक छात्र को सुबह उठने पर। इसलिए एक छात्र को सुबह जल्द उठना चाहिए।

मेहनत करना बिना फल की चाह के

मेहनत करना बिना फल की चाह के
मेहनत करना बिना फल की चाह के

किसी भी सफलता के लिए मेहनत सबसे ज्यादा जरूरी होता है लेकिन मेहनत के साथ सब्र भी काफी जरुरी होता है। कर्म करना बिना फल की इच्छा के ही सफलता का कुंजी है। यह बात हर छात्र को याद रखना चाहिए। छात्र को पढ़ाई तो खूब मेहनत के साथ करनी चाहिए लेकिन फल की इच्छा कम रखना चाहिए। फल की इच्छा होने से ज्यादा मेहनत नहीं हो पता है।

यह भी पढ़ें: health tips for students in Hindi

यह भी पढ़े: good habits in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here